beauty and the beast story in hindi | fairy tales in hindi

Beauty and beast – यह बहुत पुरानी बात है एक बहुत अमीर आदमी था इनका नाव से सामान को एक जगह से दुसरे जगह पर सामान ले जाने का काम था इनकी  3 बेटियां थी उनमें से दो बेटिया बहुत कठोर और निर्दई थी परंतु तीसरी बेटी जिसका नाम ब्यूटी था

 वह सचे दिल कि थी एक बार की बात है जब उसके पिताजी को पता चला कि उनके सारे नाव समुद्र में बुरी तरह टूट गये है यह सुनकर वह बहुत उदास हो गए

 जब यह खबर दोनों बेटियों ने सुनी तो एक दूसरे से कानाफूसी करने लगी

 अब घर का सारा काम ब्यूटी ने अकेले ही किया

Fairy tales story in hindi

 अचानक 1 दिन उनके पिताजी को पता चला कि उनका एक नाव किनारे तक आ पहुंचा है तो वह जल्द ही अपने नाव को देखना चाहते थे तो वह तुरंत ही घोड़े पर बैठे और वहा जाने लगे जाने से पहले हमेशा की तरह उन्होंने अपनी दोनों बेटियों से पूछा की तुम्हारे लिए क्या लाना है

 दोनों बेटियों ने बताया कि कुछ कपड़े और गहने परंतु जब ब्यूटी से पूछा गया कि वह क्या लेना चाहती है तो उसने कहा कि आप वहां से आते वक्त एक गुलाब लेकर आना

जब उसके पिताजी वहां पहुचे तो उन्होंने उस नाव की हालत देखी और वह बहुत दुखी हुए क्योंकि नाव  पूरी तरह टूट चुका था  और नाव किसी काम का नहीं बचा था थोड़ी देर बाद उसके पिताजी उदास होकर घर की और चलने लगे परंतु वह बहुत भूखे और प्यासे थे

 रास्ते में जाते वक्त उन्होंने एक महल देखा तभी उन्हें खाने और पीने का ख्याल आया तो उन्होंने महल के अंदर जाने का सोचा जब वह महल के अंदर गए तो उन्होंने देखा कि वहां कोई भी नहीं है और सारा महल रोशनी में जगमगा रहा था

 उन्होंने dinning table पर देखा कि वहां अलग-अलग तरह के खाने रख रखे हैं उन्होंने खाने के बारे में सोचा और जाकर बैठ गए उन्होंने भरपेट खाना खाया और जब वह dinning table के थोडा आगे गए तो

उन्होंने देखा की वहा एक Bed भी है

वह खाने के बाद बहुत थका सा महसूस कर रहे थे तो वह उस बेड पर जाकर सो गए

 जब वह सुबह उठे तो उन्होंने देखा कि वहां उनके पहनने के लिए कुछ कपड़े रखे हैं वह जल्द ही उन कपड़ों को पहन कर तैयार हुए

जब नीचे गए तो उनके खाने के लिए पहले से ही Breakfast तैयार रखा था वह उसे देखकर बहुत खुश हुए तथा उन्होंने वह खाया और जब वह घर की ओर आने लगे तो उन्होंने महल के बाहर एक बगीचा देखा

 जिसमें बहुत ही सुंदर गुलाब के फूल थे फूलों को देखकर उन्हें यह ख्याल आया कि उनकी तीसरी बेटी ने उनसे एक गुलाब का फूल लाने को कहा है तो उन्होंने उस गुलाब के फूलों को तोड़ा और उन्होंने जैसे ही फूल तोड़ा

अचानक धरती हिलने लगी और तभी पेड़ के पीछे से एक भयानक जानवर जैसा Beast निकल कर आया

Beauty के पिताजी  बहुत डर गए थे वह अचानक ही नीचे गए

Beast ने कहा  मैंने तुम्हें रहने के लिए घर; खाने के लिए खाना दिया फिर भी तुम मेरे बगीचे से फूल तोड़ रहे हो Beauty के पिताजी ने कहा कि मैंने अपनी बेटी के लिए एक गुलाब तोडा है बीस्ट ने कहा कि तुम्हें गुलाब तोड़ने की सजा मिलेगी

जब बीस्ट को उसकी तीनों बेटियों के बारे में पता चला  तो Beast ने कहा कि तुम्हे गुलाब के बदले अपनी एक बेटी को महल में भेजना पड़ेगा

उदास होकर घर गए और उन्होंने सारी घटना के बारे में अपनी दोनों बेटियों को बताया इसे सुनकर दोनों बहुत नाराज हुई और दोनों ने इस बात को अनसुना कर दिया

Read also duniya ki sabse acchi kahaniya

 इस घटना के बारे मै जैसे ही Beauty को पता चला तो वह महल जाने के लिए तैयार हुए

 ब्यूटी और उसके पिताजी दोनों महल में गए महल में जाते ही उसके पिताजी को सब कुछ पहले जैसा नजर आया पहले जैसा ही डाइनिंग टेबल पर सब कुछ तैयार मिलना और महल में किसी का ना होना और पूरा महल रोशनी में जगमगाता हुआ देखना

 तभी ब्यूटी और उसके पिताजी खाने के Table पर पहुंचे और साथ में खाना खाया तभी एक कोने से Beast निकल कर आया अचानक जब ब्यूटी ने बीस्ट को देखा तो वह हैरान हो गई और चिल्लाने लगी

बीस्ट ने ब्यूटी को बताया कि

उसे अब उसके साथ ही रहना है तो उसने निराश होकर हां कहा और बीस्ट ने उसे यह भी बताया कि अगले सुबह उसके पिताजी अपने घर  पर चले जाएंगे

जैसे ही अगली सुबह ब्यूटी उठी उसने पाया कि उसके पिताजी महल में नहीं है तो वह समझ गई उसके पिताजी जा चुके हैं उसके कुछ समय बाद उसने Breakfast किया

 ब्रेकफास्ट करने के दौरान जब Beast नीचे आया और कहा कि क्या मैं तुम्हारे साथ ब्रेकफास्ट कर सकता हूं तो ब्यूटी ने कहा कि यह महल तो आपका है तो आप यह क्यों पूछ रहे हैं तभी Beast ने Beauty से कहा की क्या आप मुझसे शादी करोगे

ब्यूटी ने हैरानी के साथ ना कहा बीस्ट ने यह सुना और वह चला गया

Beast Breakfast के  समय Beauty से मिलता और वह उसके साथ बैठता और  कुछ समय बिताता था इसी तरह दिन बीतते गए

 एक दिन जब ब्यूटी सो के उठी तो वह महल में घूमने लगी तभी उसे अचानक एक फूलों से सजा दरवाजा दिखा वहा उसके अंदर प्रवेश करती है तो वहा देखती है कि वह कमरा बहुत ही अच्छे से सजा हुआ है चारों तरफ बुक्स और सुंदर-सुंदर फूलों को सजा रखा है और वहा सोचती है कि इसी कमरे को इतना अच्छा सजाने वाला इंसान इतना बुरा भी नहीं हो सकता

 तभी उसी Table पर रखी एक Book मिलती है जैसे ही वह पढ़ती है तो वह सोचती है कि जो बोलो वह सच हो जाए तो वहा एक शीशा रखा  होता है

वहा उसके सामने खड़ी होती है और बोलती है कि काश एक बार मैं अपने पिताजी को देख पाती जैसे यह बोलती है वैसे ही उसके पिताजी  शीशे में दिखते हैं उन्हें देखकर बहुत खुश होती है

ऐसे ही दिन बिताते गये अब Beauty को Beast से कोई डर नही लगता था और वह अब बीस्ट को पसंद भी करने लगी थी

अचानक ही जब उसने एक दिन अपने पिताजी को शीशे में देखा तो पाया कि उसके पिताजी बहुत बीमार है उसने बीस्ट से कहा की क्या मै सिर्फ एक हफ्ते के लिए अपने घर जा सकती हूं बीस्ट ने कहा कि जाओ पर जल्दी आना

 और तभी Beast Beauty को एक Ring देता है और बोलता है की

 जब भी तुम इस रिंग को उतारकर सोती हो तो अपने आप को महल में पाओगी और फिर ब्यूटी वहा से चली जाती है

अगली ही सुबह अपने पिताजी के कमरे में जाती है तो उसके पिताजी उसे देखकर बहुत  खुश होते हैं

 जैसे ही उसकी दोनों बहने उसे देखती है  वह दोनों बहुत गुस्से में आ जाती है

 दोनों बहनों को पता चलता है

 कि Beauty सिर्फ यहां 1 हफ्ते के लिए आई है परंतु दोनों बहने ब्यूटी  के सामने रोने का नाटक करती है और कहती है कि तुम यहां 2 हफ्ते रुक जाओ ब्यूटी रुकने को तैयार होती है

 जब ब्यूटी  1 दिन सो रही होती है तो सपने में देखती है कि बीस्ट अपने ही बगीचे में बेजान पड़ा हुआ है और तभी वह अचानक उठती  है और अंगूठी को उतार कर सो जाती है

 अगले ही सुबह अपने आपको महल में पाती है और वह Beastको पूरी महल में ढूंढती है परंतु वह उसे कहीं नहीं पाती जैसे ही वह महल का दरवाजा खोलती है देखती है कि बीस्ट garden में सोया हुआ है

जैसा उसने अपने सपने में देखा था अचानक दौड़ के बीस्ट के पास पहुंचती है और बीस्ट का सर अपना गोद मै रखती है और रोना लगती है

जैसे ही बीस्ट के और पास जाती है तो देखती है की  Beast का दिल अभी भी धडक रहा है तभी बीस्ट अपनी आंखों खोलता है

और तभी Beauty कहती है की मै तुमसे बहुत प्यार करती हूँ मै तुमसे शादी करना चाहती हूँ

Beast यह सुन के बहुत खुश होता है

तभी आचानक ब्यूटी खड़ी होती और पाती है कि महल और जगमगाता है

महल की सुंदरता और अधिक बढ़ चुकी है  अचानक Beauty की नजर नीचे पड़ती है और वह पाती है कि नीचे एक जवान और सुन्दर आदमी हैं

ब्यूटी उसे देख कर हैरान हो जाती है तभी बीस्ट उसे बताता है कि उसे एक श्राप मिला था जिसके कारण वह इतना बदसूरत जानवर जैसा दिखता था

Beast उसको शुक्रिया करती हैं कि यदि ब्यूटी उसे शादी के लिया नही बोलती तो वह हमेशा के लिए एक बदसूरत जानवर बना रहता

बीस्ट उसे शादी के लिया पूछता है और Beauty ख़ुशी ख़ुशी शादी के लिया हां बोलती है

Beauty and beast शादी की और हमेशा के लिया खुश रहना लगे और कभी भी beauty को उसकी दुष्ट बहनों ने नहीं सताया

यह भी पढ़े

> अलादीन और जादुई चिराग

> Moral story in hindi

Leave a Comment