chidiya ki kahani

एक समय की बात है कि एक जंगल में बहुत सारे पक्षी  chidiya rani ki kahani रहा करते थे और लोग जंगल में घूमने भी जाया करते थे और एक नीली चिड़िया भी रहा करती थी उसे अपनी खूबसूरती पर बहुत ही घमंड था और वह सभी पक्षियों से सही से बात भी नहीं करती थी एक दिन कौवा नीली चिड़िया के पास आता है और नीली चिड़िया से कहता है बहुत दिनों बाद दिखाई दे रहे हो कहीं गए थे क्या,

नीली चिड़िया इसका उत्तर नहीं देती है और कहती है अभी मैं अपने पंख साफ कर रही हूं क्या तुम्हें दिखाई नहीं देता अभी यहां से जाओ इतना सुनते ही कौवा नीली चिड़िया से कहता है तुम बहुत घमंडी हो तुम्हें तो सीधे मुंह बात भी करना नहीं आता है

कुछ दिनों बाद सभी पक्षी कोयल का जन्मदिन मनाने के लिए इकट्ठा होते हैं सभी पक्षियों पार्टी की तैयारी कर रहे होते हैं परंतु नीली चिड़िया एक ही जगह पर बैठी होती है इसीलिए सब पक्षियों कहने लगते हैं तुम्हें भी कुछ काम करना चाहिए और हमारा काम में मदद करनी चाहिए

chidiya rani ki kahani
chidiya rani ki kahani

chidiya ki kahani

नीली चिड़िया उन सब पक्षियों से कहने लगती है मैं सबसे सुंदर हूं और जंगल में सभी लोग मुझे देखने आते हैं इसीलिए मुझे कोई काम करने की जरूरत नहीं है सभी पक्षियों उसकी बात को नजर अंदाज कर देते हैं और पार्टी की तैयारी में लग जाते हैं

कौवा सभी से पूछता है नीली चिड़िया को इस पार्टी में किसने बुलाया है तो कोयल बोलती है मैंने बुलाया है क्योंकि हम सभी एक ही साथ रहते हैं और वक्त आने पर एक दूसरे की मदद भी करते हैं

Read Also प्यासा कौवा हिंदी में

कोयल की इस बात को सुनकर कौवा चुप हो जाता है और कुछ भी नहीं कहता और सभी पक्षी मिलकर पार्टी करते हैं और सभी बहुत मजे करते हैं पार्टी खत्म होने तक कोई भी पक्षी नीली चिड़िया से बात नहीं करता और नीली चिड़िया को इस बात से बहुत बुरा लगता है और वह वहां से उड़ जाती है

kauwa chidiya ki kahani
kauwa chidiya ki kahani

अगले दिन जंगल में एक परिवार घूमने आता है और वह परिवार जंगल में सभी पक्षियों को देख कर बहुत खुश होता है और वह परिवार कहता है कि इस जंगल में कितने तरह-तरह के पक्षी है और यह जंगल पक्षियों की वजह से कितना सुंदर दिख रहा है और थोड़ा आगे जाते ही उनकी नजर नीली चिड़िया पर पड़ती है
यह भी पढ़े  चूहा की कहानी 

chidiya aur kauwa ki kahani

नीली चिड़िया को देखकर उस परिवार का एक छोटा लड़का उस नीले चिड़िया को घर ले जाने की जिद करने लगता है और कहता है मुझे वह चिड़िया चाहिए और मैं यह चिड़िया अपने सभी दोस्तों को दिखाऊंगा और उसके माता-पिता को भी नीली चिड़िया बहुत पसंद आती है

फिर क्या पूरा परिवार नीली चिड़िया को पकड़ने के लिए जाल बिछाते हैं वह लोग नीचे कुछ अनाज के दाने गिरा देते हैं ताकि जब नीली चिड़िया इसे खाने आए तो हम इसे पकड़ सके और नीली चिड़िया इन सब से अनजान होती है और नीली चिड़िया अनाज के दाने को देखकर उसको खाने की तरफ बढ़ती है और जैसे ही खाने लगती है

परिवार के सदस्य उसे झपट कर पकड़ लेते हैं और एक पिंजरे में बंद कर लेते हैं और एक पेड़ पर तोता और कोयल बैठकर यह देख रहे होते हैं कि एक परिवार ने नीली चिड़िया को पकड़ लिया है और वह उस परिवार का पीछा करने लगते हैं

जंगल को घूमने के बाद वह पूरा परिवार घर की ओर जा ही रहा होता है तभी वह छोटा लड़का कहता है मैं बहुत थक चुका हूं मुझे थोड़ा आराम करने दो फिर चलेंगे और आराम करने के लिए वह सब रुक जाते हैं और नीली चिड़िया को पिंजरे सहित नीचे रख देते हैं
Read also बन्दर की कहानिया

मौका पाते ही कोयल और तोता नीली चिड़िया के पास आते हैं और नीली चिड़िया से कहते हैं तुम इन लोगों के हाथ में इतनी आसानी से कैसे आ गए नीली चिड़िया कुछ भी बता नहीं पाती , कहती है मुझे यहां से निकालो नहीं तो मैं मर जाऊंगी

chidiya rani ki kahani

तोता कहने लगता है तुम्हें तो यहीं पर रहना चाहिए तुम्हें अपना घमंड है ना अपनी खूबसूरती पर यह तुम्हें इसी खूबसूरती की वजह से ले जा रहे हैं परंतु कोयल बड़े ही अच्छे स्वभाव की थी वह तोता से कहती है कि यह भी हमारे परिवार का एक हिस्सा है और नीली चिड़िया को इस तरह देख तोता और कोयल उसे एक उपाय बताते हैं कि जब भी परिवार के लोग आराम करके उठे और तुम्हारी तरफ देखें तो तुम मरने का नाटक करने लगना

तुम्हें इस हालत में देखकर यह लोग तुम्हें इस पिंजरे से बाहर जरूर निकालेंगे और मौका पाते ही तुम उड़ जाना

परिवार वाले आराम करके उठे और पिंजरे को उठा कर नीली चिड़िया को देखते हैं तो वह देखते हैं कि कि नीली चिड़िया एक तरह पिंजरे में  गिरी हुई है उन्हें लगता है कि नीली चिड़िया का दम घुट गया है और वह मर गई है और उसे बाहर निकाल कर जैसे ही जमीने पर रखते हैं नीली चिड़िया उड़ जाती है और परिवार के लोग देखते ही रह जाते हैं

इस घटना के बाद नीली चिड़िया का घमंड टूट जाता है और वह सभी पक्षियों के साथ मिलजुल कर रहने लगती है और सभी से एक समान तरीके से व्यवहार करती है

सीख – हमें इस कहानी से यह शिक्षा मिलती है कि हमें कभी घमंड नहीं करना चाहिए क्योंकि जरूरत के समय हमारा घमंड हमारा साथ नहीं देता है बल्कि हम जिन लोगों के साथ रहते हैं और अच्छा व्यवहार करते हैं वह लोग हमारा साथ देते हैं इसके विपरीत हमारा घमंड हमें अपने लोगो से दूर कर देता है
●▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬●
#  हाथी और चिड़िया  की कहानी
शेर और खरगोश की कहानी
सोने की अंडे की कहानी
बन्दर और मगरमच्छ की कहानी 
●▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬●

Leave a Comment